Friday, February 23, 2024
HomeLatest Newsआयुध निर्माणियों के निगमीकरण के विरोध में संयुक्त रूप से पूर्व कोयला...

आयुध निर्माणियों के निगमीकरण के विरोध में संयुक्त रूप से पूर्व कोयला मंत्री को सौंपा ज्ञापन

आयुध निर्माणियों के निगमीकरण के विरोध में राष्ट्रीय सुरक्षा कर्मचारी महासंघ के उपाध्यक्ष एच.एन. तिवारी, कोषाध्यक्ष विनोद तिवारी, संगठन मन्त्री सिद्धनाथ तिवारी ने संयुक्त रूप से पूर्व कोयला मन्त्री श्रीप्रकाश जायसवाल को ज्ञापन सौंपते हुए उनसे आयुध निर्माणियों को निगमीकरण से बचाने के साथ रक्षा उत्पादन में 74% एफडी आई रुकवाने की मांग करी। पूर्व कोयला मन्त्री ने आईएनडीडब्लू एफ के सभी नेताओं को आश्वस्त किया कि वे आयुध निर्माणियों का निगमीकरण रद्द कराने के लिए शीघ्र ही रक्षा मन्त्री को पत्र लिखेंगे और साथ ही निगमीकरण के विरोध में हर तरह से रक्षा कर्मियों के साथ हैं। इस दौरान राष्ट्रीय सुरक्षा कर्मचारी महासंघ के उपाध्यक्ष एच.एन. तिवारी ने कहा केँद्र सरकार की नजर आयुध निर्माणियों की करोड़ों एकड़ भूमि पर है, जिसे वह पूंजीपतियों को सौपना चाहती है।जिससे देश की सुरक्षा पर संकट आ सकता है। आयुध निर्माणियाँ देश की सुरक्षा का चौथा स्तम्भ हैं। केंद्र सरकार उनकी महत्ता को नकार कर देश को छलने का काम कर रही है। ज्ञापन देने के दौरान मुख्य रूप से इन्टक के प्रदेश उपाध्यक्ष पी.एस. बाजपेई,राणा विजय,धीरज श्रीवास्तव, अजय सिन्हा, समीर बाजपेई,राकेश सिंह, नीरज सिंह, आशुतोष तिवारी, नितिन पांडे आदि मौजूद थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular