Wednesday, February 28, 2024
Homeदेशइजरायल ने गाजा पट्टी को दो भागों में बांटा, परमाणु हमले की...

इजरायल ने गाजा पट्टी को दो भागों में बांटा, परमाणु हमले की वकालत करने वाले मंत्री निलंबित

गाजा पट्टी में इजरायल की भयानक बमबारी जारी है। इस बीच देश की सेना ने दावा किया है कि उसने गाजा पट्टी को दो भागों में बांट दिया है और किसी भी वक्त उत्तरी भाग पर हमला कर सकती है। दूसरी ओर CIA के डायरेक्टर भी कई अहम मुद्दों पर चर्चा के लिए इजरायल पहुंच चुके हैं।

हमास की ओर से किए गए आतंकी हमले के बाद से इजरायल, गाजा पट्टी पर कहर बनकर टूटा है। इजरायल की सेना ने रविवार को दावा किया है कि उसने गाजा पट्टी को दो भागों में बांटने में कामयाबी हासिल कर ली है। अब इस क्षेत्र में एक दक्षिणी गाजा और एक उत्तरी गाजा मौजूद है। सेना ने बताया है कि वो समुद्र तट पर पहुंच गए हैं और उसपर पकड़ बनाए हुए हैं। इस बीच इजरायल की ओर से गाजा की ओर लगातार एयरस्ट्राइक्स का दौर जारी है।

किसी भी समय हमले को तैयार
इजरायली सेना ने कहा है कि वह गाजा पट्टी और सीमाओं पर बेहतर सुरक्षा स्थिति बहाल करने के स्पष्ट लक्ष्य के साथ आगे बढ़ रही है। सेना ने दावा किया है कि वह किसी भी वक्त उत्तरी गाजा में हमला करने के लिए तैयार हैं। बता दें कि इजरायली प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने घोषणा की थी कि इज़राइल तब तक युद्धविराम पर सहमत नहीं होगा जब तक कि हमास आतंकवादी समूह अपने बंधकों को रिहा नहीं कर देता।

निलंबित हुए इजरायली मंत्री
गाजा पर परमाणु हमला किए जाने की वकालत करने वाले मंत्री अमीचाई एलियाहू पर पीएम नेतन्याहू ने कार्रवाई की है। दरअसल, इजरायली मंत्री से पूछा गया था कि क्या गाजा पट्टी पर परमाणु बम गिराया जाना चाहिए? इस पर मंत्री अमिहाई एलियाहू ने कहा, “यह संभावनाओं में से एक है”। पीएम नेतन्याहू ने मीचाई एलियाहू के बयान की निंदा की थी और कहा था कि मंत्री अमिहाई एलियाहू का बयान वास्तविकता पर आधारित नहीं हैं। अब पीएम बेंजामिन नेतन्याहू ने उन्हें अनिश्चितकाल के लिए सरकारी बैठकों से निलंबित कर दिया है।

इजरायल पहुंचे CIA डायरेक्टर
इजरायल-हमास युद्ध के बीच अमेरिकी खूफिया एजेंसी सीआईए के प्रमुख विलियम जे बर्न्स नेताओं और खुफिया अधिकारियों के साथ चर्चा करने के लिए इजरायल पहुंचे हैं। रिपोर्ट की मानें तो सीआईए डायरेक्टर अपनी यात्रा में बंधकों और हमास के खूफिया ठिकानों से जुड़ी अहम जानकारियों पर चर्चा कर सकते हैं। एक अमेरिकी अधिकारी ने कहा है कि उन्होंने क्षेत्र में भागीदारों के साथ खुफिया सहयोग के लिए अमेरिकी प्रतिबद्धता को मजबूत करने की योजना बनाई है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular