Monday, May 20, 2024
HomeBreaking Newsइस देश के पूर्व मंत्री ने पत्नी को 8 घंटे तक पीटा,...

इस देश के पूर्व मंत्री ने पत्नी को 8 घंटे तक पीटा, नाक की हड्डी तोड़ी, वहीं हो गई मौत, वारदात CCTV में कैद

कजाकिस्तान में एक चौंकाने वाली वारदात हुई है। एक पूर्व मंत्री ने रेस्टोरेंट में 8 घंटे तक अपनी पत्नी की पिटाई की और उसके नाक की हड्डी भी तोड़ दी। इस पिटाई से सिर में गंभीर चोट लगने की वजह से महिला की मौत हो गई। कजाकिस्तान में पहली बार ऐसे किसी मामले की सुनवाई ऑनलाइन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई जिसमें पूर्व मंत्री को दोषी माना गया।

कजाकिस्तान के एक पूर्व मंत्री कुआंडिक बिशिम्बायेव पर अपनी पत्नी को पीटने और उसकी हत्या करने का आरोप लगा है। रिपोर्ट के मुताबिक नवंबर 2023 में परिवार के स्वामित्व वाले रेस्टोरेंट में पूर्व मंत्री ने अपनी पत्नी को बालों से घसीटते हुए आठ घंटे तक पीटते रहे जिसका वीडियो भी सामने आया था। पति के इस हमले और पिटाई के कुछ ही घंटों बाद महिला को सिर में गंभीर चोट लगने की वजह से उसकी मौत हो गई।

जानकारी के मुताबिक बीते महीने 43 साल के पूर्व वित्त मंत्री कुआंडिक बिशिम्बायेव पर अपनी पत्नी, 31 साल की पत्नी साल्टानैट नुकेनोवा की हत्या के लिए मुकदमा चलाया गया था। जांच रिपोर्ट के अनुसार बिशिम्बायेव ने अल्माटी में अपने परिवार के स्वामित्व वाले रेस्टोरेंट में आठ घंटे से अधिक समय तक अपनी पत्नी नुकेनोवा पर शारीरिक हमला किया और पुलिस को इसकी सूचना नहीं दी।

कजाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान हमले का सीसीटीवी फुटेज भी बतौर सबूत दिखाया गया। मिरर ऑनलाइन की रिपोर्ट के अनुसार, कजाकिस्तान में यह पहला ऐसा केस है जिसकी सुनवाई ऑनलाइन की गई।

सीसीटीवी फुटेज में पूर्व मंत्री को कोट और जूते पहने महिला को खींचते हुए देखा गया और फिर उसे एक कोने में धकेल दिया जाता है। इसके बाद पूर्व मंत्री उसे वहां पीटता है और लात मारने के लिए आगे बढ़ता है।

रॉयटर्स समाचार एजेंसी की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि बिशिम्बायेव और नुकेनोवा ने रेस्टोरेंट में पूरा दिन और मौत से एक दिन पहले पूरी रात बिताई थी। इस घटना के 12 घंटे बाद वहां एक एम्बुलेंस पहुंची और उसे घटनास्थल पर ही मृत घोषित कर दिया गया।

रिपोर्ट में नुकेनोवा की मौत का कारण सिर में अत्यधिक चोट लगने की वजह से ब्रेन हैमेज को बताया गया। पिटाई की वजह से उसके नाक की हड्डी भी टूट गई थी। हालांकि इस मामले में पूर्व मंत्री बिशिम्बायेव ने खुद को निर्दोष बताया और कोर्ट में तर्क दिया कि नुकेनोवा की मृत्यु उसे खुद के जरिए लगी चोटों की वजह से हुई थी।

15 अप्रैल को, कजाकिस्तान के राष्ट्रपति कासिम- जोमार्ट टोकायेव ने “सॉल्टानैट लॉ” नामक एक विधेयक पर हस्ताक्षर किया था, जो पति-पत्नी के दुर्व्यवहार कानूनों को सख्त बनाने की मंजूरी देता है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक हर छह कज़ाख महिलाओं में से एक ने पुरुष साथी द्वारा हिंसा को भुगता है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular