Wednesday, December 8, 2021
Homeप्रमुख खबरेंऑपरेशन विजय बुराइयों के खिलाफ जंग की मेहनत लाई रंग संजीत यादव...

ऑपरेशन विजय बुराइयों के खिलाफ जंग की मेहनत लाई रंग संजीत यादव अपरहण एवं हत्याकांड की सीबीआई जांच शुरू

कानपुर संजीत यादव हत्याकांड में पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने हेतु संघर्षरत ऑपरेशन विजय के 45 लोगों पर दर्ज हुई थी एफ आई आर

संजीत यादव अपहरण एवं हत्या कांड में पीड़ित परिवार को न्याय हेतु सड़कों पर उतरे ऑपरेशन विजय के राष्ट्रीय अध्यक्ष को किया गया था गिरफ्तार

कानपुर संजीत यादव हत्या कांड की सीबीआई जांच ऑपरेशन विजय के वास्तविक समाज हितार्थ संघर्ष का नतीजा- शिवमंगल सिंह

कानपुर संजीत यादव कांड में देर से ही सही सीबीआई जांच का रास्ता प्रशस्त हेतु प्रदेश एवं गृह मंत्रालय को धन्यवाद- शिवमंगल सिंह

कानपुर संजीत यादव हत्याकांड में सीबीआई जांच से पीड़ित परिवार को न्याय मिलने का पूरा भरोसा- शिवमंगल सिंह

गैर राजनीतिक, देशव्यापी, देश व समाज के सभी सामाजिक बुराइयों को जड़ से मिटाने के साथ-साथ समाज के हर पीड़ित एवं न्याय से वंचित लोगों एवं परिवारों को न्याय दिलाने हेतु 2011 से संघर्षरत “ऑपरेशन- विजय” बुराइयों के खिलाफ जंग ने कानपुर नगर के संजीत यादव अपहरण एवं हत्या कांड में न्याय से वंचित पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने हेतु कड़ा संघर्ष किया था, यहां तक कि “ऑपरेशन-विजय” बुराइयों के खिलाफ जंग के राष्ट्रीय अध्यक्ष अपने वरिष्ठ पदाधिकारियों एवं हजारों समर्थकों के साथ सड़कों पर उतरे थे। जिसमें “ऑपरेशन-विजय” के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवमंगल सिंह {आई.पी.}, राष्ट्रीय महासचिव वीके सिंह (एडवोकेट) सुधीर यादव, सुशील कुमार सिंह (सागर यादव) एडवोकेट, सहित 45 लोगों के खिलाफ कानपुर के नौबस्ता थाने में मुकदमा पंजीकृत किया गया था।
साथ ही कानपुर पुलिस ने ऑपरेशन-विजय के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवमंगल सिंह {आई.पी.} कोरोना महामारी के दौरान पीड़ित परिवार के लिए सड़कों पर उतरने एवं कानपुर आगरा हाईवे बाधित करने के आरोप में गिरफ्तार कर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में रखने की पूरी ताकत से कार्रवाई की थी।
परंतु ऑपरेशन-विजय के न्यायिक प्रकोष्ठ के अधिवक्ताओं के भारी विरोध पर कानपुर पुलिस को पीछे हटकर ऑपरेशन-विजय के राष्ट्रीय अध्यक्ष को रिहा करना पड़ा था।
जिसके बाद ऑपरेशन-विजय बुराइयों के खिलाफ जंग के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवमंगल सिंह {आई.पी.} उत्तर प्रदेश सरकार एवं केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह जी से पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने हेतु सीबीआई जांच की मांग के लिए प्रयासरत थे।
जिसके परिणाम स्वरूप उत्तर प्रदेश सरकार एवं केंद्रीय गृह मंत्रालय के हस्तक्षेप पर सीबीआई ने दिनांक- 11 अक्टूबर 2021 को लखनऊ में एफ आई आर संख्या-RCO532021S0011 दर्ज कर जांच शुरू की।
संजीत यादव अपहरण एवं हत्या कांड की सीबीआई जांच पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए ऑपरेशन-विजय प्रमुख शिवमंगल सिंह ने कहा, कि पीड़ित परिवार आज सालों का समय बीत जाने के बाद भी अपने घर के बुझे चिराग को याद कर आंसू बहा रहा है व न्याय की आस लगाए बैठा है, अब सीबीआई जांच से पीड़ित परिवार एवं ऑपरेशन विजय को भी संजीत यादव अपहरण एवं हत्या कांड में न्याय की उम्मीद जगी है।
साथ ही उन्होंने कहा आज मुझे खुशी है कि “ऑपरेशन- विजय” के पदाधिकारियों कि समाज हितार्थ मेहनत से किसी न्याय से वंचित परिवार को न्याय मिलने की संभावना बढ़ी है।
अंत में उन्होंने कहा कि ऑपरेशन-विजय बुराइयों के खिलाफ जंग समाज के किसी भी पीड़ित एवं न्याय से वंचित व्यक्ति या परिवार को न्याय दिलाने के लिए लगातार संघर्ष करता रहेगा, चाहे जितनी भी कठिनाइयों का सामना करना पड़े, ऑपरेशन विजय बुराइयों के खिलाफ जंग अपने रास्ते से हटेगा नहीं, हारेगा नहीं।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular