Monday, May 20, 2024
HomeBreaking Newsकन्या भोज के बाद घर पर पसरा मातम, मोबाइल न मिलने पर...

कन्या भोज के बाद घर पर पसरा मातम, मोबाइल न मिलने पर पांचवीं की छात्रा ने लगाई फांसी

हरदोई के कन्या भोज के बाद एक घर में मातम पसर गया। जहां मां की डांट से क्षुब्ध होकर एक 12 साल की बच्ची ने आत्महत्या कर ली। सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टरमार्टम के लिए भिजवा दिया।

यूपी के हरदोई से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जहां कन्या भोज के बाद एक घर में मातम पसर गया। दरअसल बुधवार को कार्टून देखने के लिए मोबाइल मांग रही 12 साल की बच्ची को मां ने डांट दिया। जिससे नाराज होकर उसने फांसी के फंदे पर लटककर जान दे दी। उसकी मौत से घर में कोहराम मच गया। वहीं, सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया।

ये घटना अतरौली थाना क्षेत्र के हनुमानगढ़ी मजरा कुकरा का है। सर्वेंद्र सिंह के अनुसार सुबह करीब 10 बजे 12 साल की बेटी अंशिका सिंह ने कार्टून देखने के लिए मोबाइल मांगा। जब उसे मोबाइल नहीं दिया गया तो रोने लगी। इस बात पर मां आरती सिंह ने बेटी को डांटकर चुप करा दिया। अंशिका को यह इतना खराब लगा कि क्षुब्ध होकर उस समय वहां से चली गई। कुछ ही देर बाद घर के अंदर खिड़की में दुपट्टा डालकर गले में फंदा लगा फांसी लगा ली। आरती के मुताबिक बेटी के साथ उन्होंने हवन-पूजा करके कन्या भोज कराया था। घर में हंसी-खुशी का माहौल था। अंशिका विवेकानंद मॉडल कॉलेज कठवारा, लखनऊ में कक्षा पांच की छात्रा थी और भाई अंश सिंह से छोटी थी। थाना प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है, परिजनों से पूछताछ में आत्महत्या की बात सामने आई है।

कानपुर के चकेरी में सीओडी कर्मी के 14 साल के बेटे ने 6 अप्रैल को फांसी लगाकर जान दे दी। पिता के मुताबिक उनका बेटा नमन डायबिटीज से पीड़ित था। दो दिन पहले ही उसे चिकनपॉक्स हो गया था। असहनीय जलन और पीड़ा से परेशान होकर उसने जान दे दी। 2 अप्रैल को जन्मदिन था।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular