Friday, April 19, 2024
HomeLatest Newsकांग्रेसियों ने बाल गंगाधर तिलक व चंद्रशेखर आजाद के तैल चित्रों पर...

कांग्रेसियों ने बाल गंगाधर तिलक व चंद्रशेखर आजाद के तैल चित्रों पर माल्यार्पण

कानपुर, कानपुर महानगर कॉंग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हर प्रकाश अग्निहोत्री की अध्यक्षता में आज कॉंग्रेस मुख्यालय तिलक हाल में स्वतंत्रता संग्राम के महानायक लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक एवं महा बलिदानी चंद्र शेखर आजाद के जन्म दिवस पर संगोष्ठी का आयोजन कर उन्हें पुष्पांजलि दी गई।बाल गंगाधर तिलक व चंद्रशेखर आजाद के तैल चित्रों पर माल्यार्पण के बाद संगोष्ठी को संबोधित करते हुए हर प्रकाश अग्निहोत्री ने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम में अत्यंत उग्र एवं अग्रणी भूमिका निभाने सहित जन स्वीकार्यता के कारण ही बाल गंगाधर तिलक को लोकमान्य की उपाधि से सम्मानित किया गया! अग्निहोत्री ने कहा कि बाल गंगाधर तिलक प्रखर वक्ता, तार्किक महायोगी और स्वतंत्रता हमारा जन्म सिद्ध अधिकार है का मूलमंत्र देने वाले भारत माता के ऐसे सपूत थे जिन्होंने कड़ा आंदोलनात्मक रुख अख्तियार कर होमरूल की स्थापना की और ब्रिटिश हुक्मरानों को खुली चुनौती देते हुए समूचे ब्रिटिश साम्राज्य को हिला कर रख दिया! बाल गंगाधर तिलक ने अपनी त्याग तपस्या से काँग्रेस और स्वतंत्रता आन्दोलन को जो शक्ति प्रदान की और जो बलिदान दिया है उसे कभी भुलाया नहीं जा सकता!अध्यक्ष हर प्रकाश अग्निहोत्री ने चंद्रशेखर आजाद को याद करते हुए कहा कि देशभक्त परिवार में जन्मे आजाद अल्पायु मे ही स्वतंत्रता आंदोलन से जुड़ गए थे. 14 वर्ष की आयु में जब उन्हें गिरफ्तार कर मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया तो पूछने पर उन्होंने अपना नाम आजाद, पिता का नाम स्वतंत्रता और निवास जेल खाना बताया तो मजिस्ट्रेट क्रोधित हो उठे और उन्हें 15 कोड़ों की सख्त सजा सुनाई. जिस पर आजाद भरी अदालत में भारत माता की जय के नारे लगाने लगे और जब तक उन्हें कोड़े मारे जाते रहे वह लगातार भारत माता की जय के नारे लगाते रहे! भारत उन्हें कभी भूल नहीं सकते।इस अवसर पर इकबाल अहमद, अशोक धानविक, कृपेश त्रिपाठी, ग्रीन बाबु सोनकर, नौशाद आलम मंसूरी, ईखलाख अहमद डेविड, चंद्र मणि मिश्रा, सुबोध बाजपेयी, रामनारायण जैस, बृज भान राय, प्रदीप कुमार, एजाज रशीद, संदीप चौधरी आदि मौजूद थे!

RELATED ARTICLES

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular