Saturday, March 2, 2024
HomeLatest Newsकिसानों के मसीहा चौधरी चरण सिंह को मिले भारत रत्न:सुरेश गुप्ता

किसानों के मसीहा चौधरी चरण सिंह को मिले भारत रत्न:सुरेश गुप्ता

कानपुर, किसानों के मसीहा पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की 33 वी पुण्यतिथि में लगी आदमकद तीन प्रतिमाएं रामादेवी घंटाघर चौराहा तथा गंगा बैराज में है संपूर्ण प्रदेश में कहीं भी चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा 1 जिले में 2 भी नहीं लगी है इन प्रतिभाओं को देख रेख चौधरी चरण सिंह स्मारक समिति करती है तीनों प्रतिमा स्थलों पर चौधरी साहब को श्रद्धांजलि अर्पित की गई और सामाजिक दूरी का भी ध्यान रखा गया यह कार्यक्रम राष्ट्रीय लोक दल कानपुर व चौधरी चरण सिंह समिति के संयुक्त तत्वाधान में मनाया गया! सुरेश गुप्ता प्रांतीय प्रवक्ता राष्ट्रीय लोक दल ने चरण सिंह के व्यक्तित्व एवं कर्तव्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि चौधरी साहब किसानों मजदूरों बेरोजगारों महिलाओं के पक्षधर थे उनका जन्म 23 दिसंबर 1902 और मृत्यु 19 मई 1986 को हुई थी। चौधरी चरण सिंह ने जोत बही दिलवाई जिसमें किसानों की भूमि संबंधी रिकार्डो में गड़बड़ ना हो सके नहर की पटरियों पर ग्रामीणों चलने पर लगे ब्रिटिश कालीन कानून समाप्त कराया उर्वरको मैं बिक्री कर समाप्त किया सीलिंग से प्राप्त जमीन भूमिहीनों मे आवंटित उस समय चरण सिंह वित्त मंत्री थे रसायनिक उवर्रकों पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क में 50% की छूट प्रदान की गई लाइट डीजल ऑयल पर एक्साइज ड्यूटी में 52% की कमी तथा कृषि यंत्रों पर भी उत्पाद शुल्क में कमी की गई बाकी छोटे किसान भी इसका उपयोग कर सकें ग्रामीण बेरोजगारों के लिए बदले अनाज तथा समाज सबसे कमजोर तबकों के उदार के लिए अंत्योदय योजना ग्रामीण कृषि कार्य करने वालों को ऋण आसानी से प्रदान हो इसी दृष्टि से चौधरी चरण सिंह ने कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक की स्थापना की सुरेश गुप्ता ने कहा कि किसानों के मसीहा चौधरी चरण सिंह भारत रत्न के हकदार हैं उन्हें मिलना चाहिए। आरएलडी नगर अध्यक्ष मो उस्मान ने बताया कि देश के संघर्षशील प्रधानमंत्री स्वर्गी चौधरी चरण सिंह थे गरीबों किसानों मजदूरों का सहारा बने जिन्होंने गरीबों असहयोग की सहायता की कि उनका नाम बड़े ही सम्मान से लेते हैं!इस अवसर पर राष्ट्रीय लोकदल के नगर अध्यक्ष मोहम्मद उस्मान सिंह ग्रामीण अध्यक्ष राम सिंह राजपूत , मदनलाल भाटिया, अरविंद बाजपेई डॉ0 खान,रतिराम यादव आदि लोग मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular