Saturday, March 2, 2024
HomeLatest Newsकोरोना के संभावित मरीज खोजने को दस दिन घर-घर चला ‘‘विशेष सर्विलांस...

कोरोना के संभावित मरीज खोजने को दस दिन घर-घर चला ‘‘विशेष सर्विलांस अभियान”

औरैया
कोविड-19 के अन्तर्गत पांच जुलाई से जनपद में घर-घर टीमों के माध्यम से ‘‘विशेष सर्विलांस अभियान‘‘ प्रारम्भ किया गया। यह अभियान 15 जुलाई 2020 तक चला। इस अभियान में गठित 4,450 टीमों के माध्यम से घर-घर जाकर आम जनमानस के संवेदीकरण तथा सर्वेक्षण की गतिविधियॉ की गयीं । गठित टीमों द्वारा प्रत्येक घर में व्यक्ति के बुखार, खांसी और सांस लेने में परेशानी जैसे लक्षणों का सर्वे किया गया, साथ ही टीम ने उन व्यक्तियों को भी चिन्निहित किया जो काफी समय से शुगर, ब्लडप्रेशर, कैंसर, हृदय रोग, गुर्दा रोग इत्यादि बीमारियों से ग्रसित थे ।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. अशोक कुमार ने बताया जनपद में कोरोना संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने घर-घर सर्वे अभियान शुरू किया था। स्वास्थ्य विभाग ने शत-प्रतिशत घरों की स्क्रीनिंग का कार्य निर्धारित समय पर पूर्ण कर लिया | नगरीय और ग्रामीण इलाकों में दस दिनों तक स्वास्थ्य विभाग की टीम ने अभियान चलाते हुए नए-पुराने रोगियों के साथ-साथ कोविड-19 के लक्षण वाले मरीजों को चिन्हित किया था। साथ ही कोरोना संभावित मरीजों को निकटवर्ती अस्पतालों में पहुंचाकर नमूने कराए गए थे।

डॉ कुमार ने बताया कि दस दिन चले अभियान में लगभग 2 लाख 66 हज़ार 308 घरों का भ्रमण किया गया | जिसमें 13 लाख 49 हज़ार 567 लोगों से उनके स्वास्थ्य का हाल लिया गया | जिसमें से 1894 लोगों में मधुमेह, 1177 में उच्च रक्तचाप, 173 लोगों में कैंसर, 365 लोगों में ह्रदयरोग, 128 लोगों में गुर्दारोग, 800 लोगों में बुखार, 593 लोगों में खाँसी और 373 लोगों में साँस लेने में दिक्कत के लक्षण मिले |

उन्होंने जनमानस से अपील की है कि कोविड-19 से मिलते-जुलते लक्षण वाले मरीज अपना सैंपल कराने में देरी न करें। कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए यह बेहद जरूरी है। लेकिन लोग भयवश अभी भी बीमारी को छिपाने की कोशिश करते हैं, जो कि नुकसानदेह साबित हो सकता है। इसलिए देर न करें। सूखी खांसी, जुकाम, सांस लेने में दिक्कत और तेज बुखार आ रहा है तो तत्काल जांच कराएं।

RELATED ARTICLES

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular