Friday, February 23, 2024
HomeLatest Newsढाई सौ साल पुराने कछुए की मौत पर श्रद्धालुओं ने किया प्रदर्शन

ढाई सौ साल पुराने कछुए की मौत पर श्रद्धालुओं ने किया प्रदर्शन

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार जहां एक तरफ धार्मिक स्थलों धार्मिक तालाबों के सुंदरीकरण पर जोर दे रही है। तो वहीं दूसरी तरफ कुछ लापरवाह ठेकेदार योगी सरकार की कोशिशों पर पानी फेरने का काम कर रहे हैं। कुछ यही हाल पनकी में देखने को मिला। पनकी मंदिर के बगल में स्थित कछुआ तालाब में इसका सुंदरीकरण चल रहा है कुछ दिन पहले ठेकेदार दिलीप बाजपेई की लापरवाही से तमाम मछलियां मर गई थी आज उसी लापरवाही का नतीजा निकला कि ढाई सौ साल पुराना एक कछुआ मर गया और बड़ा ही गंभीर विषय है। कि ठेकेदार को कुछ भी नहीं कि कहा जा रहा है ना किया जा रहा है। तालाब का पानी काटकर उसने पूरा तालाब बिल्कुल दलदल बना दिया है। जिससे सारे जीवो का जीवन संकट में है। कछुआ तालाब के प्रबंधक डीडी पाठक से क्षेत्रीय लोगों ने शिकायत करने की बात कही। वही ढाई सौ साल पुराना कछुआ मर जाने पर लोगों में आक्रोश व्याप्त है और क्षेत्रीय लोगों और श्रद्धालुओं ने मिलकर प्रदर्शन किया और ठेकेदार दिलीप बाजपेई के खिलाफ कार्यवाही की मांग की गई। मुख्य रूप से उपस्थित संजय पाठक एडवोकेट चंद्र मोहन मिश्रा एडवोकेट पनकी मंदिर के महंत जितेंद्र आदि लोग उपस्थित हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular