Thursday, February 22, 2024
Homeप्रमुख खबरेंदिल्ली में खौफनाक वारदात: थप्पड़ का बदला लेने के लिए कर दिया...

दिल्ली में खौफनाक वारदात: थप्पड़ का बदला लेने के लिए कर दिया नाबालिग का कत्ल, चार ने घेर किया चाकू से हमला

पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी भूपेंद्र उर्फ बुची (22), वरुण (18), तुषार (18) और विनय (21) के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपियों के पास से वारदात में इस्तेमाल दो चाकू व अन्य सामान बरामद किया है।

दक्षिण दिल्ली के अंबेडकर नगर इलाके में दीपावली वाले दिन मारे गए थप्पड़ का बदला लेने के लिए दो युवकों ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर नाबालिग की बेरहमी से हत्या कर दी। मृतक की शिनाख्त पीयूष (17) के रूप में हुई है। दरअसल पीयूष ने दीपावली वाले दिन भूपेंद्र उर्फ बुची व वरुण नामक युवक को थप्पड़ माकर दिया था। उसका बदला लेने के लिए वारदात को अंजाम दिया गया।

पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी भूपेंद्र उर्फ बुची (22), वरुण (18), तुषार (18) और विनय (21) के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपियों के पास से वारदात में इस्तेमाल दो चाकू व अन्य सामान बरामद किया है। अंबेडकर नगर थाना पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। क्राइम टीम के अलावा एफएसएल ने मौके से साक्ष्य जुटाए हैं। पुलिस के मुताबिक पीयूष अपनी मां व बहनों के साथ देवली इलाके में रहता था। इसकी मां छोटा-मोटा काम कर परिवार का गुजारा कर रही है। वहीं पीयूष ने 11वीं कक्षा पास करने के बाद दो साल पहले पढ़ाई छोड़ दी थी। पहले पीयूष का परिवार मदनगीर इलाके में ही रहता था। उसके सारे दोस्त यहीं पर हैं। वह अक्सर दोस्तों से मिलने आता रहता था।

बुधवार को भी वह एरिया में आया हुआ था। इस बीच रात करीब पौने आठ बजे आरोपियों ने लाल बिल्डिंग स्कूल दक्षिणपुरी के पास पीयूष को घेर लिया। आरोपियों ने उस पर चाकू से हमला कर दिया। जान बचाने के लिए पीयूष एक चिकन के ढाबे में घुस गया। आरोपियों ने अंदर घुसकर उस पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया।
बाद में सभी आरोपी वहां से फरार हो गए। 8.00 बजे मामले की सूचना पुलिस को दी गई। इससे पूर्व ही पीसीआर ने घायल को एम्स ट्रामा सेंटर पहुंचाया। बुरी तरह पिटाई करने के अलावा पीयूष के शरीर पर चाकू के छह घाव थे। जहां इलाके के दौरान पीयूष ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर चारों आरोपियों को दबोच लिया।

इनसे पूछताछ कर पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि वारदात में और कौन-कौन शामिल था। घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला जा रहा है। घटना के बाद से पीयूष के परिजनों का रो-रोकर बुरा है। वह अपने परिवार में इकलौता बेटा था। स्थानीय लोग भी काफी डरे हुए हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular