Monday, May 20, 2024
HomeBreaking Newsधर्म परिवर्तन, 50 हजार रुपये महीना, नौकरी का लालच... कानपुर में धर्मांतरण...

धर्म परिवर्तन, 50 हजार रुपये महीना, नौकरी का लालच… कानपुर में धर्मांतरण पर बवाल, देर रात जमकर हंगामा

बजरंग दल कार्यकर्ताओं की सूचना पर पर पुलिस ने दो बसों को रुकवा लिया जिसमें 50 के करीब पुरुष और महिलाएं सवार थीं। पुलिस के सामने बस में बैठे संजय वाल्मीकि नाम के शख्स ने दावा किया कि उन्हें धर्म परिवर्तन के लिए दीपक और विलियम नाम के दो पादरी उन्नाव ले जा रहे थे।

यूपी के कानपुर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है, जहां कथित तौर पर दो बसों में लोगों को भरकर धर्म परिवर्तन के लिए ले जाया जा रहा था। तभी बजरंग दल कार्यकर्ताओं की सूचना पर पर पुलिस ने दोनों बसों को रुकवा लिया जिसमें 50 के करीब पुरुष और महिलाएं सवार थीं। पुलिस के सामने बस में बैठे संजय वाल्मीकि नाम के शख्स ने दावा किया कि उन्हें धर्म परिवर्तन के लिए दीपक और विलियम न के दो पादरी उन्नाव ले जा रहे थे। फिलहाल, पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पूरा मामला थाना नवाबगंज अंतर्गत चौकी गंगा बैराज के पास का है। जहां बजरंग दल ने पुलिस की मदद से उन्नाव की तरफ जा रही दो बसें रोकी। आरोप है कि दोनों बसों में पुरुषों और महिलाओं को भरकर धर्म परिवर्तन के लिए ले जाया जा रहा था। जिसकी सूचना मिलते ही भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। पुलिस ने धर्मांतरण कराने वाले गैंग के सदस्यों को पकड़ कर उनके खिलाफ केस दर्ज किया है।

दरअसल, शनिवार रात (2 बजे) को कानपुर की नवाबगंज पुलिस और बजरंग दल के लोगों ने गंगा बैराज पर दो बसों को रोका। इनमें 50 के करीब लोग सवार थे। बताया गया कि इन लोगों को दीपक और विलियम नाम के दो पादरी धर्म परिवर्तन के लिए उन्नाव ले जा रहे थे।

एसीपी महेश कुमार का कहना है कि बस में बैठे हुए व्यक्ति संजय वाल्मीकि ने आरोप लगाया है कि यह लोग हम लोगों को धर्म परिवर्तन के लिए उन्नाव ले जा रहे थे, जहां हमें ईसाई बनाया जाता और हमको हर महीने 50 हजार रुपये दिए जाते। नौकरी आदि का भी लालच दिया गया था। संजय की शिकायत पर पुलिस ने दीपक और विलियम के खिलाफ एफआईआर दर्ज करके उनको हिरासत में ले लिया है और पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है। जिस बस में लोग सवार थे वो शहर के एक नामी स्कूल की है।

मामले में बजरंग दल के नेता कृष्ण तिवारी का कहना है कि हम लोगों को सूचना मिली थी रात में नवाबगंज क्षेत्र से दो बसों में भरकर लोगों को उन्नाव में एक किसी खास स्थान पर धर्म परिवर्तन के लिए बुलाया गया है। उनको पैसों का लालच दिया गया है। जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई और गंगा बैराज पर देर रात चेकिंग लगाई गई।

कृष्ण तिवारी का आरोप है कि यह लोग शहर के अन्य रास्तों से भी धर्म परिवर्तन के लिए लोग ले गए हैं। दो बसें जो पकड़ी गई हैं वो तो बानगी भर है। फिलहाल, पुलिस अब इन आरोपों की जांच कर रही है।

गौरतलब है कि प्रशासन की कार्यवाहियों के बावजूद कानपुर में धर्म परिवर्तन का बड़ा रैकेट चल रहा है। इसके पहले घाटमपुर में और चकरी में एक बड़ा गैंग इस तरह का धर्म परिवर्तन करने के आरोप में गिरफ्तार किया जा चुका है। लेकिन इसके बावजूद धर्म परिवर्तन की घटनाएं नहीं रुक रहीं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular