Saturday, February 24, 2024
HomeLatest Newsनशा मुक्त भारत बनाकर राम राज्य का दे उत्कृष्ट उदाहरण....ज्योति बाबा

नशा मुक्त भारत बनाकर राम राज्य का दे उत्कृष्ट उदाहरण….ज्योति बाबा

कानपुर
5 दीपक जलाकर राम मंदिर शिलान्यास के साथ अब राम राज्य में भारत देश के बच्चों को नशे के रोग से बचाने हेतु नशा मुक्त भारत बनाने का सुयशपूर्ण कार्य कर हम प्रभु राम के कृतित्व को आत्मसात करें,उपरोक्त बात सोसाइटी योग ज्योति इंडिया के तत्वाधान में श्री श्री गणेश लक्ष्मी मूर्ति विसर्जन सेवा संस्थान के सहयोग से कोरोना मिटाओ नशा हटाओ हरियाली लाओ अभियान के तहत आयोजित वर्चुअल बैठक शीर्षक “क्या राम राज्य में भी नशा बिकेगा”पर अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख योग गुरु ज्योति बाबा ने कही,श्री ज्योति बाबा ने आगे कहा कि प्रभु श्रीराम के विराट व्यक्तित्व का वह उदाहरण है जो स्वयं के प्रति संकल्प और सत्य के प्रति उनकी निष्ठा को बयान करता है वह ना तो कभी अपने कर्तव्य मार्ग से विचलित हुए और ना ही अपने साथ के लोगों को ऐसा करने दिया, यही संदेश दिया खुद हम सत्य मार्ग पर रहे तो इससे औरों को भी प्रेरणा मिल सकती है श्री ज्योति बाबा ने आगे कहा कि जब भारत का बचपन नशे में डूबा होगा तो संकल्प शक्ति खोया युवा कैसे वह प्रभु श्री राम के जीवन दर्शन से प्रेरित होकर अपना जीवन निर्वाह को सात्विक बना पाएगा,क्योंकि होशपूर्ण,जोशपूर्ण युवा मन ही अहंकार व व्यभिचार रूपी नशे से मुक्त होकर आनंद के सागर में गोते लगा सकता है, वीरांगना अनुपम जैन व मानवाधिकार वादी स्वामी गीता ने संयुक्त रुप से कहा कि मातृशक्ति के सशक्तिकरण हेतु नशा मुक्त भारत संकल्प को साकार करना ही होगा l युवा क्रांतिकारी समाज सेवी मनोज कुमार पाल ने कहा कि अब भारत में नशा मुक्त भारत की ठोस पहल कर रामराज्य की झलक सत्ता शासन में सर्वत्र प्रेरणा के लिए दिखनी ही चाहिए l संविधान रक्षक दल के राष्ट्रीय संयोजक राजेंद्र कश्यप ने कहा की राम जी का जीवन संदेश है कि एक सामान्य इंसान भी नैतिक जिम्मेदारियों और अपनी सीमा व नियमों का सम्मान करते हुए महानता को प्राप्त कर सकता है, महाराणा मंदिर के महंत राम अवतार दास व लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्डधारी आलोक मल्होत्रा ने संयुक्त रूप से कहा कि हम पर दैहिक, दैविक, भौतिक तापो का प्रभाव इसलिए पड़ता है हमने प्रभु राम के चरणों को तो पकड़ा,लेकिन आचरण धारण करने में चूक गए l वर्चुअल बैठक का संचालन क्रांतिकारी राकेश चौरसिया व धन्यवाद फैमिली हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ.अजीत सिंह ने दिया l अन्य प्रमुख विचारक महंत राम अवतार दास, स्वामी गीता, विवेकानंद गिरी, मुन्ना चौरसिया ,नवीन पाठक इत्यादि थे l

RELATED ARTICLES

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular