Wednesday, December 8, 2021
Homeप्रमुख खबरेंबहू से संविदाकर्मी जैसा सलूक! कार मांगते हुए ससुरालवाले कहते हैं- परमानेंट...

बहू से संविदाकर्मी जैसा सलूक! कार मांगते हुए ससुरालवाले कहते हैं- परमानेंट बहू नहीं हो, 6 महीने की ट्रायल पर हो, हुआ केस दर्ज

भोपाल में 6 माह की ट्रायल बहू! संविदाकर्मी जैसे ताने। सुनने में भले ही आपको अटपटा लगेगा, लेकिन यही सच है। श्यामला हिल्स थाने में नवविवाहिता ने पति, ससुर और बुआ सास पर दहेज प्रताड़ना का आरोप लगते हुए शिकायत की है। आरोप है कि ससुराल वाले ताना मारते थे कि तुम्हें नौकरी की तरह 6 महीने के ट्रायल पर रखा है। तुम्हारा निकाह ट्रायल बेस पर किया है। तुम अभी इस घर की बहू नहीं हो पाई हो। 6 महीने बाद तुम परमानेंट बहू बनोगी। शिकायत मिलने के बाद पुलिस जांच कर रही है।

मामला राजधानी के श्यामला हिल्स इलाके में रहने वाली नरगिस (परिवर्तित नाम) का है। 29 वर्षीय नरगिस का विवाह 02 जनवरी 2021 को इस्लामिक रीति रिवाज से बड़ौदा की एक निजी कंपनी में काम करने वाले तालिब के साथ हुआ था। पिता ने शादी में करीब 50 लाख रुपए खर्च किए थे। ससुराल वालों को जेवर और गृहस्थी का सामान आदि दिया था।

शादी के कुछ समय बाद ही पति तालिक मुस्ताक रिजवी, ससुर मुस्ताक रिजवी और बुआ सास फलक रिजवी ने नरगिस पर कार लाने का दबाव बनाना शुरू कर दिया। इसके लिए उससे 15 लाख रुपए की मांग की जा रही है। नरगिस ने कहा कि मेरे पति और ससुर मुझसे कहने लगे कि कार के पैसे लेकर आओ या अलग हो जाओ या हम जैसे रखें, वैसे नौकरानी बनकर रहो।

ट्रायल पर की शादी
नरगिस का कहना कि उसकी बुआ सास कहती थी कि वह अभी घर की बहू नहीं बनी है। ट्रायल पर है। पति व ससुर का भी कहना है कि जैसे नौकरी पर रखते समय 6 माह का ट्रायल पर रखा जाता है, वैसे ही नरगिस को उन्होंने रखा है। 6 माह के बाद ये तय करेंगे कि आगे साथ रखना है या नहीं। नरगिस ने अपनी शिकायत में कहा है कि उसका पति अक्सर उसके सामने अप्राकृतिक कृत्य करता था। थाना प्रभारी एलडी मिश्रा ने बताया कि फरियादी की शिकायत पर पति, ससुर और बुआ सास के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज किया गया है। जांच के बाद जल्दी ही आरोपियों की गिरफ्तारी कर आगामी कार्रवाई की जाएगी।

कार का आश्वासन मिलने के बाद ले गया था
नरगिस ने बताया कि मार्च में एक कार्यक्रम होने के कारण बड़ौदा से मुझे लेकर भोपाल आए थे। इस दौरान वह मुझे मायके छोड़कर चले गए। चार-पांच दिन बाद जब ले जाने के लिए फोन किया तो कार की मांग करने लगे। इस पर पिता ने कार दिलाने का आश्वासन भी दे दिया था। इसके बाद वह मुझे लेकर चले गए थे, लेकिन कार नहीं मिलने पर पति ने मारपीट कर मुझे वापस मायके छोड़ दिया। जेवर व अन्य सामग्री भी पूरी रख ली।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular