Wednesday, June 19, 2024
HomeLatest Newsबाजार बंदी में व्यापारियों का रोना, आय बंद पर व्यय चालू 

बाजार बंदी में व्यापारियों का रोना, आय बंद पर व्यय चालू 

बाजार बंदी में आय तो पूरी तरह बंद हैं लेकिन व्यय बराबर हो रहा है। सरकार इस ओर भी ध्यान दें ताकि व्यापारी इस कोरोना काल में बड़ी मुसीबत से बच सके। नवीन मार्केट व्यापारी एसोसिएशन ने प्रेस कांफ्रेंस कर बाजार बंदी पर आपत्ति जताई. उन्होंने सरकार से लॉकडाउन के दौरान व्यापारियों पर लगने वाले करों को माफ करने की भी मांग की। अध्यक्ष दीपक कुमार सविता ने कहा कि, बाजार बंद होने की वजह से व्यापारियों की आय शून्य है. लेकिन व्यय बराबर हो रहा है। जिसका कारण लॉकडाउन में भी व्यापारियों पर लगने वाला बिजली बिल, जीएसटी, गृहकर, जलकर व दुकान का किराया ये सभी का भार व्यापारियों पर आ पड़ा है. अब ऐसे में बिना आय के व्यय का भुगतान व्यापारी भी किस तरह से करेंगे। शासन से हमारी मांग है कि सरकार बंदी के दौरान व्यापारियों से भुगतान न लें. साथ ही हमारे कर्मचारियों के भरण पोषण के लिए भी आर्थिक मदद की जाए. प्रेस वार्ता के दौरान दीपक कुमार सविता जितेंद्र जायसवाल संरक्षक गया प्रसाद शर्मा, ओमप्रकाश ओमी, राजेश कुमार, मनीष काशिफ अख्तर, शाहनवाज व अन्य व्यापारी मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular