Monday, January 17, 2022
HomeLatest Newsब्रम्हदेव आश्रम बुढ़वा में परमार्थ प्रेरणा समिति द्वारा आयोजित धर्म संस्कार महोत्सव...

ब्रम्हदेव आश्रम बुढ़वा में परमार्थ प्रेरणा समिति द्वारा आयोजित धर्म संस्कार महोत्सव में वर पक्ष के सभागार में दिखे दूल्हेही दूल्हे तो वहीं कन्या पक्ष के सभागार में लाल जोड़े में सजी सकुचाती लजाती दिखीं बेटियां

रितिक सोनकर

अमौली ( फ़तेहपुर )विकास खंड अमौली क्षेत्र के ग्राम बुढ़वा में स्थित सरकार आश्रम में परामर्श प्रेरणा समिति द्वारा आयोजित धर्म संस्कार महोत्सव में 19 नवम्बर 2021को कार्यक्रम के अंतिम दिन यज्ञशाला में आचार्य विमल शास्त्री के नेतृत्व में आचार्यों ने यज्ञ की पूर्णाहुति कराई मंत्रोचारण करते हुए रुद्राष्टाध्याई तथा अन्य वैदिक मंत्रों के साथ मुख्य यजमान प्रेमचंद्र शुक्ला ने पूर्णाहुति की अंतिम आहुति डाली। उसके बाद समस्त देवी देवताओं के जयघोष से परिषर गूंज उठा तथा आचार्य ने इस यज्ञ में लोक कल्याण के लिए 1008 विशेष आहुतियां भी दिलवाई। इसके बाद सर्वजातीय सामूहिक विवाह के मंच पर समस्त क्षेत्र व सुदूर जनपदों से अतिथियों का तांता लग गया।कार्यक्रम का संचालन उमेश त्रिवेदी ने किया। चारों तरफ भीड़ एकत्र हो गई व्यवस्था संभाले हुए समिति के पदाधिकारी गण ही दिखाई पड़ रहे थे । 11 लोगों में प्रत्येक युगल के साथ वर पक्ष और कन्या पक्ष की ओर से 50 -50 परिजनों को साथ लाने तथा उन के जलपान से लेकर खाने तक की पूर्ण व्यवस्था समिति की ओर से कराई गई थी। इसके अनुसार प्रांगण में वह अद्भुत दृश्य उपस्थित हुआ जबकि वरपक्ष के सभागार में दूल्हे ही दूल्हे तथा कन्या पक्ष के सभागार में सकुचाती लजाती श्रंगार में रत बेटियां दिखाई पड़ती थी लाल जोड़े में सजी यह बेटियां बहुत ही दिव्य रुप प्रस्तुत कर रही थी। ।तो वर पक्ष के सभागार में अगवानी की प्रतीक्षा कर रहे थे। जैसे ही कार्यक्रम के संयोजक विमलेश त्रिवेदी ने मंच से समस्त युगलों को मंच पर लाने के लिए इंगित किया समितिकेपदाधिकारियों ने तैयार दूल्हों को अगवानी के लिए भेजा भांगड़ा ढोल ,तथा पारंपरिक बैंड के साथ समस्त दूल्हों ने ग्राम भ्रमण करके अगवानी में हिस्सा लिया ।तो परिजनों ने बैंड के मस्त गीतों में मस्ती का लुफ्त लिया ।नाचते गाते यह वर यात्राएं पांडाल तक पहुंची उसके बाद समिति के एक-एक करके समस्त आवश्यक क्रिया विधियों का पालन करके सभी तथ्यों का मिलान करने के पश्चात एक-एक दूल्हे को मंच पर आसीन कराया गया। इसी बीच सांस्कृतिक प्रकोष्ठ की टीमों ने वाद्य यंत्रों के माध्यम से मंगल गीतों का गायन किया ।फिर बेटियों का आगमन हुआ जिन्हें क्रमानुसार मंचासीन कराने के पश्चात जय माले के लिए बेटियां तैयार हुई। समस्त अतिथियों तथा विशाल आम जनमानस की उपस्थिति में देवताओं को साक्षी मानकर आचार्यों के मंत्रोच्चार के साथ बेटियों ने अपने जीवनसाथी को वरमाला पहनाई ।जय माला की रस्म पूर्ण होने के साथ ही पूरा प्रांगण शुभाशीष के शब्दों से और ब्रम्हदेव सरकार की जय घोष से गूंज उठा। अतिथियों तथा माताओं बहनों ने पुष्प वर्षा कर नवयुगलो को अपनी शुभकामनाएं दी इसी बीच नौ युगलों को आशीर्वाद देने के लिए केन्द्रीय राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति व कारागार राज्य मंत्री जय कुमार जैकी के साथ अन्य मंचासीन अतिथियों ने समस्त युगलों को आशीष प्रदान किया ।तथा कार्यक्रम को पूर्ण सहयोग देने के लिए और समितिकेपदाधिकारियों को ऐसे कार्यक्रमकेआयोजन के लिए बधाइयां दी ।और कहा कि ऐसे कार्यक्रम आयोजित होते रहने से ना केवल गरीब जनमानस का पैसा बचता है। अपितु शादियों में होने वाली फिजूलखर्ची से भी बचा जा सकता है ।उन्होंने समाज के हर तबके का आवाहन करते हुए कहा कि आइए हम सब मिलकर समाज से कुप्रथाओं को मिटाएं ।दहेज प्रथा मिटाने के लिए हमें ऐसे आयोजनों को बढ़ावा देना होगा। “श्री रघुवर कोमल कमल नयन को पहनाओ वरमाला” जैसे मंगल गीतों के मध्य वरमाला पहनाई इसके बाद आचार्य विमल शास्त्री के नेतृत्व में आचार्यों के समूह ने एक एक करके पाणीग्रहण की सारी रस्में करवाई । रंग लगाने से लेकर अग्नि प्रज्वलन ,वेदी पूजन ,हल्दी लगाना, कन्यादान ,लाइ परोसने ,भाँवर आदि शादी की पूरी रस्में निभाई गई । इसके बाद समस्त युगलों ने ब्रम्हदेव सरकार के दर्शन किए। समिति के व्यवस्थापक उमेश त्रिवेदी ने विदाई गीत गाकर लोगों को और भी भावुक कर दिया “पूर्ण हुई मनकामना ,मंगल बेला आज। आज पिया के घर चली ,पितु कुल की वो लाज ।पितुकुल की वह लाज बने, पिय कुल की थाती । बेटी हो कुलदीप, मांतु सब मंगल गाती “गीत के शब्दों को सुनकर माताएं बहने और भी भावुक हो गई । कार्यक्रम व्यवस्थापक उमेश त्रिवेदी ने कार्यक्रम में आए समस्त सहयोगियो तथा अतिथियों एवं माताओं बहनों का आभार जताया ।कार्यक्रम समिति में सोमदत्त पाण्डेय,अमर किशोर,जितेन्द्र सोनी,राकेश यादव,प्रशान्त अवस्थी,रामदास सचान,प्रेम चंद मिश्रा, अरुण मिश्रा, छोटू शर्मा, रिहान खान,चन्दन सचान,शिवम अवस्थी,शीमू शुक्ला,प्रियांशू सैनी,मनू पाण्डेय,हिमांक सैनी आदि कार्यक्रम को सम्पन्न कराने में जुटे रहे।
उपहार में दिया गया समान-
समस्त बेटियों को समिति की ओरसेपायल,बिछिया ,बेशर ,बक्से में 5 साड़ियां ,गृहस्थी का हर एक सामान चकला बेलन ,गैसचूल्हा,सिंगारदान ,बेड ,गद्दा रजाई ,और कुर्सी सेट के साथ पृथक्करण रूप से अलग-अलग अतिथियों तथा सहयोगियो के द्वारा ढेर सारी उपहार सामग्री भी उपहार में दी गई ।
इन युगलों ने पहनाई वर माला-आरती संग अनूप, मेनका संग मोनू कुमार,राधा संग अमित,
उमा संग अरविंद,हर्षिता संग अंकित,नीलम संग रामजी,अर्चना संग जीतू,विनीता संग चंद्रजीत,सुमन संग राजन,रजनीशा संग प्रियांशू।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular