Wednesday, December 8, 2021
HomeLatest Newsभव्य कवि सम्मेलन का आयोजन

भव्य कवि सम्मेलन का आयोजन

झाँसी 16अक्टूबर। ग्राम अस्ता में नवदुर्गा प्रांगण में भव्य कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया जिस के मुख्य अतिथि समाजसेवी यादवेंद्र सिंह परिहार डुमरई रहे। कवि सम्मेलन की अध्यक्षता वरिष्ठ कवि डॉ शिवाजी चौहान ने की अतिथियों द्वारा मां सरस्वती एवं देवी के विभिन्न स्वरूपों की पूजा अर्चना के पश्चात डा.प्रतिज्ञा गुप्ता की वाणी बंन्दना से कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ तत्पश्चात उन्होंने अपने गीत के माध्यम से जवानों पर इस प्रकार काव्य पाठ किया। सीमा पर डटे जवान रख लेना भारत की शान चीन हो या पाकिस्तान धूल चटा देना। इस अवसर पर डॉ पुष्पेंद्र सिंह चौहान ने बढ़ती महंगाई को इंगित करते हुए कहा आम आदमी आम बन गया। चुसने को मजबूर हो गया। तत्पश्चात विवेक वरसैया ने अपने गीत के माध्यम से कहा महफिलो में रौनक है उनकेआने जाने से ।फूल मुस्कुराते हैं उनके मुस्कुराने से ।।डॉक्टर शिवाजी चौहान ने बेटियों को नसीहत देते हुए कहा सोन चिरैया नैन पुतरिया कुल ना दाग लगइयो। बड़े प्रेम से जाओ सासुरें हंसी खुशी से रहियो।। चन्द्र भान सिंह चंदर ने बुंदेली भाषा में किसानों का वर्णन करते हुए गीत पढा खेतन किसान गाडें मचान करि हरि को गान करे रखवारी। हरिया भगाए गुथना घुमाए फिरें नांय मांय बारी बारी ।शिशुपाल सिंह सरस ने अपनी रचना के माध्यम से भ्रष्ट राजनीति को कुछ यू ललकारा नियम न्याय को एक खिलौना बना दिया। राजनीति को खेल खिलौना बना दिया।। उन्नत का झांसा देकर बेहाल कर दिया। सोने की चिड़िया को ही कंगाल कर दिया ।।धन भेजे परदेस तुम्हारी ऐसी तैसी खा गए पूरा देश तुम्हारी ऐसी तैसी।। रघुवीर सिंह शहजादे कवियों पर कटाक्ष करते हुए कहा आज के कवियन की सोच भई है न्यारी आवे के पहले पैसा मांगत गावे के पहले तारी।। कार्यक्रम का सफल संचालन कर रहे हरनाथ सिंह चौहान व्यंग्यकार ने विभिन्न विषयों पर चटपटे व्यंग सुकर श्रोताओं को सोचने पर मजबूर कर दिया एवं हास्य रचनायें सुनाकर लोटपोट कर दिया इस अवसर पर दिनेश सिंह दीखित उर्फ पप्पू जगराम सिंह पूर्व प्रधान, सुरेश सिंह, पवन तोमर लक्ष्मण सिंह सहित अनेक श्रोता उपस्थित रहे ।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular