Friday, February 23, 2024
HomeLatest Newsमाननीय जिलाधिकारी कानपुर देहात से चाइल्डलाइन 1098 सर्विस का संचालन करने के...

माननीय जिलाधिकारी कानपुर देहात से चाइल्डलाइन 1098 सर्विस का संचालन करने के लिए एनओसी जारी करने की की मांग

कानपुर देहात| नगर में मुसीबत में फसे बच्चों की आकस्मिक मदद के लिए बाल सेवी संस्था सुभाष चिल्ड्रेन सोसायटी द्वारा कानपुर नगर व कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर चाइल्ड लाइन कानपुर व चाइल्ड हेल्प डेस्क का संचालन किया जा रहा है जिसकी सफलता को देखते हुए महिला बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा नियुक्त एनजीओ चाइल्डलाइन इंडिया फाउंडेशन द्वारा व माननीय जिलाधिकारी कानपुर देहात की पहल पर कानपुर देहात में चाइल्डलाइन 1098 सर्विस का संचालन बस एक कदम दूर है जिस क्रम में माह नवंबर 2019 में माननीय जिलाधिकारी कानपुर देहात से बाल सेवी संस्था सुभाष चिल्ड्रेन सोसाइटी कानपुर नगर द्वारा कानपुर देहात में चाइल्डलाइन 1098 का संचालन करने के लिए निवेदन किया गया था और उनके द्वारा बाल हित में प्रभावी पहल की गई थी जो कि कानपुर देहात के बच्चों के लिए भविष्य में अच्छा उदाहरण साबित होगी इसके साथ ही कानपुर देहात भी बाल अधिकारों के राष्ट्रीय नेटवर्क का हिस्सा बन जाएगा जिसके लिए माननीय जिलाधिकारी कानपुर देहात से कानपुर देहात में बच्चों की मदद के लिए चाइल्ड लाइन 1098 का संचालन करने के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र जारी करने का संस्था द्वारा अनुरोध किया गया है जिससे कानपुर देहात में चाइल्डलाइन 1098 का संचालन कर अधिक से अधिक बच्चों की मदद की जा सके | ज्ञातव्य हो कि महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार के अंतर्गत चाइल्डलाइन इंडिया फाउंडेशन मुंबई द्वारा संचालित मुसीबत में फंसे एवं जरूरतमंद बच्चों की मदद के लिए 24 घंटे निशुल्क आपातकालीन राष्ट्रीय स्तर की फोन सेवा चाइल्डलाइन 1098 का संचालन भारत के 600 से अधिक शहरों व 50 से अधिक रेलवे स्टेशनों में किया जा रहा है जिसके साथ ही कानपुर नगर में प्रदेश स्तरीय बाल सेवी संस्था सुभाष चिल्ड्रेन सोसायटी के द्वारा चाइल्डलाइन 1098 का क्रियान्वयन सफलतापूर्वक विगत वर्ष 2007 से किया जा रहा है एवं सेंट्रल स्टेशन कानपुर नगर में बाल सहायता बूथ रेलवे चाइल्ड लाइन का संचालन विगत जनवरी 2018 से किया जा रहा है अवगत करा दें कि चाइल्ड लाइन कानपुर द्वारा विगत 12 वर्षों में 12000 से अधिक बच्चों को मदद पहुंचाई गई एवं रेलवे चाइल्ड लाइन द्वारा 1500 से अधिक बच्चों को मदद पहुंचाई गई| जिसमें भट्टके बच्चों को उनके घर पहुंचाया बच्चों को चिकित्सीय सहायता अनाथ बच्चों को आश्रय बच्चों की काउंसलिंग कर उन्हें उज्जवल भविष्य के लिए प्रेरणा प्रदान की तथा बच्चों को उनके साथ हो रहे शोषण से मुक्त कराया संस्था अध्यक्ष कमल कांत तिवारी ने बताया कि महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार के अंतर्गत चाइल्डलाइन इंडिया फाउंडेशन मुंबई द्वारा कानपुर देहात में विभिन्न संस्थाओं से वार्ता की गई थी जिस क्रम में उनके द्वारा कानपुर नगर की बाल सेवी संस्था सुभाष चिल्ड्रन सोसाइटी को उसके अनुभवों के आधार पर कानपुर देहात में चाइल्डलाइन 1098 सर्विस का संचालन करने के लिए चयनित किया गया है जिसमें संस्था के अनुभवों के बारे में विस्तार से उन्हें बताया गया कि कानपुर नगर व सेंट्रल स्टेशन में मिलने वाले अनाथ जरूरतमंद गुमशुदा बाल मजदूर चिकित्सा आवश्यकता वाले बच्चे व किसी के द्वारा सताए गए बच्चों को लाइन द्वारा आकस्मिक मदद पहुंचाने के साथ ही जनपद कानपुर देहात में मिलने वाले बच्चों को भी चाइल्ड लाइन कानपुर नगर द्वारा आकस्मिक सहायता पहुंचाई जा रही है जिसके साथ ही जनपद कानपुर देहात के अभी तक 150 से अधिक बच्चों को भी सहायता पहुंचाई जा चुकी है| साथ ही उन्होंने बताया कि चाइल्डलाइन का कार्यालय कानपुर नगर में होने के कारण बच्चों को कानपुर देहात में आकस्मिक मदद पहुंचाने में देरी हो जाती है लेकिन जब चाइल्ड लाइन का कार्यालय कानपुर देहात में होगा तो हमारे द्वारा बच्चों कोआकस्मिक मदद शीघ्र ही पहुंचाई जा सकती है जिसके लिए संस्था द्वारा माह नवंबर 2019 से प्रयास किया जा रहा था और अंततः चाइल्डलाइन इंडिया फाउंडेशन द्वारा मेल के माध्यम से संस्था को कानपुर देहात में चाइल्ड लाइन शुरू करने के लिए चयनित होने का संदेश मिला जो कि बहुत ही सौभाग्य की बात है जिस क्रम में आज संस्था अध्यक्ष कमल कांत तिवारी संस्था प्रतिनिधि रामानंद पाठक माननीय जिलाधिकारी कानपुर देहात से मिले और चाइल्ड लाइन का आरंभ जिले में करने के लिए एनओसी जारी करने का अनुरोध किया गया जिसका माननीय जिलाधिकारी कानपुर देहात द्वारा सकारात्मक जवाब देते हुए शीघ्र से शीघ्र एनओसी प्रमाण पत्र जारी करने का आश्वासन दिया|

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular