Saturday, April 20, 2024
HomeBreaking Newsलगातार बेटियां होने से परेशान महिला का खौफनाक कदम, दो बच्चियों को...

लगातार बेटियां होने से परेशान महिला का खौफनाक कदम, दो बच्चियों को चौथी मंजिल से फेंका; खुद भी कूदी

नोएडा के बरौला गांव में एक महिला ने लगातार चार बेटियां होने पर खौफनाक कदम उठाया। महिला ने दो बच्चियों को छत से नीचे फेंक दिया। इसके बाद खुद भी छलांग लगा दी। घटना में दो की मौत हो गई है।

नोएडा के बरौला गांव स्थित मकान में किराये पर रहने वाली महिला ने बुधवार दोपहर एक बजे के करीब अपनी दो बेटियों को चौथी मंजिल की छत से नीचे फेंका और महज एक मिनट बाद खुद भी कूद गई। एक बेटी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि महिला ने उपचार के दौरान एक घंटे बाद दम तोड़ दिया। घटना में घायल एक अन्य बेटी तीन वर्षीय दिव्या का निजी अस्पताल में उपचार चल रहा है।

एसीपी शैव्या गोयल ने बताया कि हाथरस के बोगा गांव का मनोज वर्तमान में बरौला गांव स्थित जितेंद्र शर्मा के मकान में किराये का कमरा लेकर रह रहा है। वह सेक्टर-49 थानाक्षेत्र स्थित एक निजी अस्पताल की कैंटीन में काम करता है। बुधवार को साढ़े नौ बजे वह घर से खाना खाने के बाद कैंटीन आ गया। इस दौरान उसकी सात साल की बड़ी बेटी स्कूल चली गई। घर पर मनोज की पत्नी 32 वर्षीय सरिता और पांच साल की बेटी कृतिका और तीन साल की बेटी दिव्या थीं।

दोपहर एक बजे के करीब पड़ोसियों ने मनोज को सूचना दी कि उसकी पत्नी सरिता दोनों बेटियों को छत से धक्का देने के बाद खुद भी नीचे कूद गई है। कृतिका की मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद आनन-फानन में मनोज घर पहुंचे और गंभीर रूप से घायल सरिता और दिव्या को अस्पताल में भर्ती कराया। उपचार के दौरान सरिता की भी मौत हो गई।

घटना की जानकारी होते ही एसीपी और थाना प्रभारी मय पुलिसबल मौके पर पहुंचे। पुलिस और फॉरेंसिक की टीम भी इस दौरान घटनास्थल पर पहुंच गई। टीम ने वहां से सैंपल लेकर जांच शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने और लगातार बेटियां पैदा होने से सरिता परेशान हो गई थी। गुरुवार को महिला और उसकी बेटी का अंतिम संस्कार होने की बात कही जा रही है।

सरिता की मौत के बाद मनोज ने स्कूल गई अपनी सबसे बड़ी बेटी को अस्पताल बुलाया। बेटी ने जैसे ही मां को मृत अवस्था में देखा वह चीख-चीखकर रोने लगी। अस्पताल परिसर में मौजूद लोगों ने किसी तरह बेटी को संभाला। इस दौरान खून से सनी टीशर्ट पहने मनोज भी एक कोने में फूट फूट कर रो रहे थे। स्थानीय लोगों ने बताया कि मनोज को पड़ोस में रहने वाले सभी लोग अच्छे व्यवहार के कारण प्यार करते हैं। दो बेटियों को छत से नीचे फेंकने के बाद खुद भी छलांग लगाने वाली महिला सरिता ने पांच महीने पहले अपनी चौथी बेटी को ज दिया था।

तार में अटकने के बाद जमीन पर गिरी महिला
महिला जिस स्थान पर कूदी, वहां दो इमारतों के बीच गलियारा है। वहां मौजूद तार के जाल में सरिता फंस गई, लेकिन तार टूटने के बाद वह दोबारा नीचे गिरी। उसके सिर में गंभीर चोट लगी। उसे आईसीयू में भर्ती किया गया, लेकिन कुछ देर बाद उसने दम तोड़ दिया।

हत्या के एंगल से भी जांच
कुछ लोगों ने आशंका जताई है कि महिला और उसकी बेटियों को किसी ने धक्का देकर नीचे गिराया। ऐसे में पुलिस ने हत्या के एंगल से भी जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने मका ऐप पर पढ़ें वाले अन्य लोगों और मालिक से पूछताछ की है। मकान के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को भी खंगाला जा रहा है। एसीपी ने बताया कि महिला और उसकी बेटी की मौत के कारणों को जानने का प्रयास किया जा रहा है।

ऐसे बची तीन साल की मासूम की जान
इमारत के बगल में खाली प्लॉट पर अस्थायी बाथरूम बना था। सरिता की तीन वर्षीय बेटी दिव्या बाथरूम में नहा रही महिला पर गिरी। इससे बच्ची को हल्की चोट आई, लेकिन वह बच गई। स्नान कर रही महिला ने बताया कि बच्ची उसकी पीठ पर गिरी, जिससे वह घबरा गई। आसपास के लोग उसे अस्पताल लेकर गए। महिला को भी पीठ में मामूली चोट आई है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular