Tuesday, July 23, 2024
HomeLatest Newsविश्व पर्यावरण दिवस की पूर्व संध्या पर लगाई गई चित्रकला प्रदर्शनी एक...

विश्व पर्यावरण दिवस की पूर्व संध्या पर लगाई गई चित्रकला प्रदर्शनी एक दर्जन से अधिक स्कूलों के बच्चों ने पर्यावरण को बचाने हेतु संदेश को पन्नों पर उकेरा

कानपुर 4 जून विश्व पर्यावरण दिवस की पूर्व संध्या पर बाल प्रतिभाओं को निखारने एवं उनमें कला के प्रति उत्सुकता बढ़ाने के उद्देश्य से बाल सेवी संस्था सुभाष चिल्ड्रन सोसायटी व चाइल्डलाइन कानपुर द्वारा बच्चों को पेंटिंग लगाकर निश्चित कला प्रदर्शनी लगाने के लिए 01 दर्जन से अधिक स्कूलों के बच्चों से चित्रकला आमंत्रित की गई थी जिस क्रम में आज विश्व पर्यावरण दिवस की पूर्व संध्या पर बाल सेवी संस्था सुभाष चिल्ड्रन सोसायटी व चाइल्ड लाइन कानपुर को प्राप्त चित्रों की प्रदर्शनी लगाई गई है।
कार्यक्रम में प्रमुख रूप से विद्यालयों में प्रैग्मा पब्लिक स्कूल यशोदा नगर कानपुर श्याम कमल हायर सेकेंडरी स्कूल यशोदा नगर कानपुर आदर्श बाल विद्यालय विश्व बैंक बर्रा रघुवंश अकैडमी गुजैनी पूर्णा देवी गर्ल्स इंटर कॉलेज यूपी किराना वी एम मेमोरियल डॉ वीरेंद्र स्वरुप एजुकेशन सेंटर सेंट थॉमस मॉडर्न एजुकेशन सेंटर राजरानी ज्ञान निकेतन सिटी एजुकेशन सेंटर मदर टेरेसा मिशन हायर सेकेंडरी स्कूल इंदौर निकेतन स्कूल भारतीय ज्ञानपीठ कानपुर कन्या विद्यालय माया देवी गर्ल्स इंटर डॉक्टर भीमराव अंबेडकर करबाक परसोली कानपुर देहात कॉलेज व सुभाष चिल्ड्रन एकेडमी राजीव विहार नौबस्ता कानपुर नगर आदि विद्यालयों के बच्चों ने सक्रिय सहभागिता निभाई।
कार्यक्रम में आई पेंटिंग में बच्चों द्वारा इन वाक्यों के साथ विषधर आभूषण है करते दूर प्रदूषण हैं हरे पेड़ों को मत काटो वृक्ष लगाओ पर्यावरण को सुंदर बनाओ हरे वृक्ष को काटना सामाजिक अपराध है होली में हरे पेड़ काटकर त्यौहार का कलंकित न करें पेड़ लगाओ वातावरण में खुशहाली लाओ आदि के माध्यम से वृक्षों को लगाकर पर्यावरण को सुरक्षित रखने की अपील की।
क्या यह लाइन के निर्देशक व सुभाष चिल्ड्रन सोसायटी के अध्यक्ष कमल कांत तिवारी ने पृथ्वी और पर्यावरण का महत्व बताते हुए कहा कि यदि पृथ्वी का अस्तित्व बचाना है तो हमें पर्यावरण को सुरक्षित रखना होगा और कम से कम विद्युत ऊर्जा का उपयोग करना होगा तभी पृथ्वी पर आने वाले संकट को टाल सकते हैं साथ ही उन्होंने बताया कि पर्यावरण में असंतुलन के कारण आज हम सभी को विभिन्न प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है कितने वायुमंडल तापमान से लेकर जल प्रदूषण तथा विभिन्न प्रकार की नई बीमारियों से जूझना पड़ रहा है हमारी पृथ्वी दिन पर दिन संकट से घिर गई है जिसका प्रमुख कारण पर्यावरण को नष्ट करना व ऊर्जा का अधिक व्यय है उन्होंने जन सामान से अपील की कि वे पृथ्वी को बचाकर जीवन को सुरक्षित करें।
हम सबको मिलकर पर्यावरण बचाने हेतु काम करना चाहिए इसमें अधिक से अधिक वृक्षारोपण साथ ही अनावश्यक वस्तुओं को ना जलाएं क्योंकि इससे उत्पन्न हुआ हमारे वायुमंडल को प्रदूषित करता है साथ ही वायुमंडल के तापमान को भी प्रभावित करता है पृथ्वी के अस्तित्व को बचाना है तो पर्यावरण को सुरक्षित करना होगा साथ ही उन्होंने बताया कि चित्रकला जैसी प्रतिभाओं को बच्चों में बहाने से व अपराधिक प्रवृत्ति में लिप्त नहीं होंगे और उनके अंदर एक प्रतिभा का उदय होगा इसके साथ ही चित्र कविता से कैसे अपने भाव को समाज के समक्ष रख सकते हैं और अपनी प्रतिभा को समाज के समक्ष ला सकते हैं इसके अतिरिक्त व चित्रकला को अपना शौक बनाकर भी जीवन में इसके लाभ ले सकते हैं।
कार्यक्रम में मुख्य रूप से मुख्य अतिथि संस्था अध्यक्ष व चाइल्ड लाइन के निदेशक कमल कांत तिवारी समन्वयक प्रतीक धवन मंजुला तिवारी शिवानी सोनवानी दीक्षा तिवारी प्रमोद कुमार श्रीवास्तव रामानंद पाठक रेलवे चाइल्ड लाइन के समन्वयक गौरव सचान रीता सचान अमिता तिवारी आदि उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular