Thursday, February 22, 2024
Homeप्रमुख खबरेंसपा विधायक सैयदा खातून के श्रीरामकथा में शामिल होने के बाद शुद्धीकरण...

सपा विधायक सैयदा खातून के श्रीरामकथा में शामिल होने के बाद शुद्धीकरण से गरमाई राजनीति, MLA बोलीं-ये शैतानी लोगों का काम

सिद्धार्थनगर में समाजवादी पार्टी की विधायक सैयदा खातून के श्रीरामकथा में शामिल होने पर राजनीति गरमा गई है। बीजेपी और हिंदूवादी संगठनों ने विधायक के वहां जाने पर रोष जताते हुए शुद्धीकरण कराया।

यूपी के सिद्धार्थनगर जिले में सपा की मुस्लिम विधायक सैयदा खातून के श्रीरामकथा में शामिल होने और उसके बाद बीजेपी और हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं द्वारा शुद्धीकरण किए जाने पर राजनीति गरमा गई है। विधायक ने शुद्धीकरण पर अपनी टिप्पणी में कहा कि मैं सभी धर्मों का सम्मान करती हूं। शैतानी लोगों के कृत्य से मेरे ऊपर कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है।

बता दें कि डुमरियागंज क्षेत्र के बलुआ-भड़रिया समय माता स्थान पर आयोजित श्रीरामकथा में शनिवार की रात सपा विधायक सैयदा खातून शामिल हुई थीं। इस पर रविवार को भाजपा और हिन्दूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं ने रोष जताया। बढ़नीचाफा के चेयरमैन धर्मराज वर्मा और जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि संतोष पासवान के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने गंगाजल और पंचगव्य छिड़ककर वैदिक मंत्रोच्चार के बीच शुद्धीकरण किया।

नगर पंचायत अध्यक्ष धर्मराज वर्मा ने कहा कि नगर पंचायत बढ़नीचाफा स्थित सिद्धपीठ बलुआ समय माता मंदिर प्रांगण में धार्मिक आयोजन में सपा विधायक शामिल हुई थीं। उस स्थान का शुद्धीकरण किया गया है।

शुद्धीकरण पर विधायक बोलीं, सभी धर्मों का सम्मान

सिद्धार्थनगर जिले के डुमरियागंज क्षेत्र के बलुआ-भड़रिया समय माता स्थान पर आयोजित श्रीरामकथा में शनिवार की रात सपा विधायक सैयदा खातून के शामिल होने पर रविवार को शुद्धीकरण किया गया।

डुमरियागंज विधानसभा क्षेत्र से सपा विधायक सैयदा खातून ने कहा कि बलुआ समय माता स्थान पर आयोजित धार्मिक कार्यक्रम में हमें बुलाया गया था। आयोजन कमेटी की ओर से हमारा सम्मान भी किया गया। मैं विधायक हूं। सभी धर्मों का सम्मान करती हूं और आगे भी करती रहूंगी। जो हमारा काम है करती हूं। शैतानी लोगों के कृत्य से मेरे ऊपर कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है।

ये रहे शामिल

वहीं शुद्धीकरण में शामिल जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि संतोष पासवान ने कहा कि बलुआ समय माता स्थान आसपास के कई जनपदों के हिंदू जनमानस की आस्था का केंद्र है। इस दौरान मिथलेश पाण्डेय, विजय मिश्र, प्रमोद गौतम, केशवराम यादव, राहुल, रामराज आदि मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular