Saturday, April 20, 2024
HomeLatest Newsसमाजवादियों को पुलिस ने पेट्रोलियम मंत्री का पोस्टर जलाने से रोका

समाजवादियों को पुलिस ने पेट्रोलियम मंत्री का पोस्टर जलाने से रोका

कानपुर, लगातार 21 वे दिन भी पेट्रोल डीजल की कीमतों में वृद्धि से आक्रोशित समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता सपा नेता अभिमन्यु गुप्ता के नेतृत्व में माल रोड पे पेट्रोलियम मंत्री व भाजपा का पुतला व पोस्टर जलाने हेतु एकत्रित हुए जहां पुलिस न पहुँच कर अभिमन्यू गुप्ता से पोस्टर चित्र आदि छीन लिया और फिर हिरासत में लेकर थाने में बैठा दिया।सपा व्यापार सभा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष व उत्तर प्रदेश प्रान्तीय व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता के नेतृत्व में समाजवादियों ने भाजपा हटाओ देश बचाओ के नारे लगाते हुए पेट्रोलियम मंत्री व भाजपा का संयुक्त पोस्टर जलाने के लिए जैसे ही निकाला तो कई पुलिस वालों ने अभिमन्यु व उनके साथियों कों घेर कर उनसे सामग्री छीन ली और फिर चौकी बड़े चौराहा ले गए। अभिमन्यु गुप्ता ने कहा की यह भाजपा की हताशा है।वे धारा 144 के तहत सोशल डिस्टेंसिंग के साथ केवल 5 लोगों के साथ संवैधानिक तरीके से अपना विरोध प्रकट कर रहे थे।अभिमन्यु ने कहा की विरोध तो सबका मौलिक अधिकार है।इस मौके पर अभिमन्यु गुप्ता ने कहा कि सोचिये कितने शर्म की बात है की भाजपा सरकार में डीजल पेट्रोल से भी महँगा हो गया। 2014 से इस मुद्दे पर लगातार सरकार को घेरने वाली भाजपा आज शर्मिंदगी में है।और जब अंतराष्ट्रीय स्तर पर तेल की कीमतें कम हैं तब अगर देशवासियों से 80 रुपये की कीमत ली जाएगी तो इसका मायना तो यही है की भाजपा पूर्ण रूप से सरकार चलाने में विफल है और अब उसको हटना चाहिए।लाकडाउन के बाद हालात बद से बदतर हो गए हैं।नोटबन्दी,जीएसटी व लोकडाउन की वजह से व्यापारी,किसान,मज़दूर,नौकरीपेशा सब बर्बाद हुए।वन नेशन वन टैक्स का वादा भी भाजपा के हर वादे की तरह झूठ उर धोखा साबित हुआ।माल-सामान का परिवहन व उत्पादन 20 प्रतिशत तक महँगा हो गाया और खेती-किसानी में सिंचाई की लागत भी बढ़ गई।व्यापारी उद्यमी रो रहे हैं क्योंकि वो आर्डर लेकर माल बनाते हैं और कीमत पहले से तय होती है।सपा नेता जितेन्द्र जायसवाल ने कहा की आज व्यापारी ,किसान सबका नुकसान ही नुकसान हो रहा है।पेट्रोल डीजल मूल्यवृद्धि व कमरतोड़ महंगाई से जनता में त्राहि त्राहि है। जितेंद्र जायसवाल ने कहा की जब तक तेल की कीमतें अंतराष्ट्रीय कीमतों के अनुसार कम नहीं होतीं व जीएसटी में नहीं लाया जाता,तब तक लगातार संघर्ष जारी रहेगा।अभिमन्यु गुप्ता,जितेंद्र जायसवाल,सहज प्रीत सिंह,राजेन्द्र कनौजिया,मनोज चौरसिया थे।

RELATED ARTICLES

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular