Monday, May 20, 2024
HomeLatest Newsसरकार ने लाकडाउन में जनता से किये वादे पूरे नही किये :...

सरकार ने लाकडाउन में जनता से किये वादे पूरे नही किये : इखलाक अहमद डेविड

कानपुर 11 उ०प्र० कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के स्टेट कोआर्डिनेटर/मंडल प्रभारी इखलाक अहमद डेविड ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि कोरोना वायरस के प्रभाव को कम करने के लिए देश में 22 मार्च 2020 से शुरु हुआ जनता कर्फ्यू उसके बाद लाकडाउन और अब आनलाक के बीच में ही 55 घंटे का यूपी में फिर सम्पूर्ण लाकडाउन लगा दिया गया जिसने जनता की परेशानियों और डर को बढ़ा दिया कि एक दिन के जनता कर्फ्यू के बाद 111 दिन के बाद भी हालात नही सुधरे आर्थिक व्यवस्था चरमरा गयी है देश में 300 मरीज़ो पर लाकडाउन लगा 108 दिन बाद 8 लाख सें भी ज़्यादा मरीज़ों की संख्या बढ़ गयी कोरोना मरीज़ो की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई कमी नही आयी। इखलाक अहमद डेविड ने आगे कहा कि गरीब मज़दूरों को खाना, मरीज़ों को दवा बच्चों को दूध, बुजुर्गों को इलाज नही मिल पा रही था। प्रधानमंत्री व रिजर्व बैंक ने जनता से बहुत सुविधाएं देने का वादा किया कोई वादा पूरा नही हुआ बिजली के बिलों में राहत तो मिली नही बिल तीन गुना बढ़ाकर केस्कों ने भेजे, ईएमआई तीन महीने न वसूलने का दावा भी फुस हो गया बैंकों फाइनेंस कम्पनियों ने जम के ईएमआई की रकम वसूली, स्कूलों की फीस तीन माह बाद लेने का दावा तो हवा हवाई साबित हुआ स्कूल प्रबंधन ने फीस बढ़ाने के साथ फीस जमा न करने पर बच्चे का नाम काटने की धमकियां खुले आम दी जा रही है। आनलाक में बाज़ार खुला है लेकिन खरीदार नही दिख रहे है सरकारी नौकरी वालों की सैलरी तो समय पर लेकिन प्राइवेट नौकरी पेशा लोग को आधी सैलरी भी नही दी गयी मकानों के किराया न वसूलने की बात में भी कोई दम नही दिखा मकानदारों ने कोई रियायत नही दी सबसे ज़्यादा मध्यम वर्ग को परेशानी हुई उधार लेकर लाकडाउन में काम चलाने वालो को पूरी सैलरी न मिलने से डिप्रेशन मे है वो आत्महत्या करने को मजबूर है। सरकार ने जो रियात देने का वादा किया एक वादा भी पूरा नही हुआ बस एक काम किया चावल-गेहूं दे कर अपना पल्ला झाड़ा। कानपुर में एक समय कोरोना एक्टिव केस की संख्या 18 से भी कम हो गयी थी जो आज 500 के पार पहुंच गयी है सोशल डिस्टेसिंग की धज्जियां उड़ाई जा रही है। अभी भी वक्त है जनता सोशल डिस्टेसिंग का पालन करे मास्क का प्रयोग करे 2 गज की दूरी रखे भीड़ न लगाए सावधानी सतर्कता बरते और सरकार जनता से किये वादों को निभाए।

RELATED ARTICLES

5 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular